Unity Indias

Search
Close this search box.
[the_ad id='2538']
महाराजगंज

कवरेज करने को लेकर एक बार फिर पत्रकार पर जानलेवा हमला,




जिले में हो रहे लगातार पत्रकारों पर हमला रुकने का नाम ही नहीं ले रहा है। ग्रामसभा सोनवल में कवरेज करने गए चौक बाजार के पत्रकार श्रवण वर्मा पर ग्राम प्रधान सहित कुछ लोगों ने मारपीट की। घटना की जानकारी देते हुए पत्रकार श्रवण वर्मा ने बताया कि बृहस्पतिवार को दोपहर में ग्राम सभा सोनवल में मनरेगा का कार्य हो रहा था जिसमें 70 लोगों की उपस्थिति दिखाकर मौके पर 25 से 30 लोग ही कार्य कर रहे थे और मनरेगा कार्य में लगने वाले मैटेरियल भी थर्ड क्वालिटी का था। इसी चीज की जानकारी लेने के लिए मौके पर पत्रकार श्रवण वर्मा उक्त स्थान पर पहुंचे और उन्होंने ग्राम प्रधान से हो रहे कार्यों की जानकारी मांगी। जिससे ग्राम प्रधान सुरेंद्र भारतीय गुस्से में आकर उनका मोबाइल फोन छीना, उसके बाद गाली गलौच करने लगे और उनका कॉलर पकड़कर गाल पर तीन चार थप्पड़ भी जड़े और शर्ट भी फाड़ दिया। अभद्र गालियां देकर जबरन पत्रकार को अपने मोटरसाइकिल पर अपने कुछ सहयोगियों के साथ बैठाकर एकांत जगह ले जाकर एक घंटे तक उन्हें कमरे में बंद किया और डराने धमकाने लगे। ग्राम प्रधान सुरेंद्र भारती ने पत्रकार को धमकाते हुए कहा कि यहां से चले जाओ अन्यथा तुम्हारे ऊपर एससी एसटी लगाकर तुम्हें जेल भिजवा दूंगा और अगर नहीं माने तो तुम्हारे ऊपर गांव की कुछ महिलाओं को बुलाकर 376 का भी मुकदमा दर्ज करवा दूंगा। ग्राम प्रधान का कहना था कि तुमसे पहले भी एक पत्रकार ऐसे ही सवाल पूछने आया था जिसकी हमने खूब पिटाई की थी। ग्राम प्रधान ने कहा कि मैं पत्रकार का मतलब कुछ समझता नहीं हूं और आज के बाद से मेरे गांव में कभी भी दिख मत जाना अन्यथा अंजाम बहुत बुरा होगा। किसी तरीके से वहां से मौका देख कर पत्रकार श्रवण वर्मा भाग निकले और महराजगंज जिले पर पहुंचकर एसपी को प्रार्थना पत्र दिया। बातचीत के दौरान पत्रकार श्रवन वर्मा ने बताया कि एसपी को प्रार्थना पत्र देकर ग्राम प्रधान सहित कुछ अन्य लोगों को खिलाफ FIR करवाने और उचित कार्रवाई करने के लिए कही गई है। जिसमें एसपी ने पत्रकार पर हुए हमले को मौके पर मामले को संज्ञान में लेकर अभियुक्त के खिलाफ जांच कर कार्रवाई करने के निर्देश सीओ को दे दिए हैं। पत्रकार पर हुए इस हमले से पत्रकार एकता संघ के पदाधिकारियों में काफी रोष है। पत्रकार एकता संघ के पदाधिकारियों ने कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की है और उन्होंने कहा कि जल्द से जल्द प्रशासन जांच कर दोषी ग्राम प्रधान के खिलाफ कठोर कार्रवाई करे। ताकि भविष्य में इस तरह के पत्रकारों पर हो रहे हमले रुक सके। इस दौरान पत्रकार एकता संघ के जिलाध्यक्ष अंशुमान दिवेदी, जिला उपाध्यक्ष मनीष कुमार यादव, जिला सचिव कृपा शंकर सहित पत्रकार एकता संघ के तमाम पदाधिकारी उपस्थित रहे।

Related posts

पीसीएस जे परीक्षा पास कर जज बनी अलका भारती का गांव पहुंचने पर हुआ भव्य स्वागत

Abhishek Tripathi

आर के इंटरमीडिएट कॉलेज के विद्यार्थियों ने मनाया राष्ट्रीय विज्ञान दिवस

Abhishek Tripathi

कस्बे में अतिक्रमण को लेकर प्रशासन सख्त , मचा हड़कंप

Abhishek Tripathi

Leave a Comment