Unity Indias

Search
Close this search box.
[the_ad id='2538']
उत्तर प्रदेश

पुलिस वर्दी सिलने व बेचने वाले आईडी प्रूफ लेने के बाद वर्दी सिले बेचे – एसएसपी



मोहम्मद अहमद खान

गोरखपुर, उत्तर प्रदेश।

पुलिस की वर्दी कर पुलिस समाज को बदनाम करने वालों पर अंकुश लगाने के लिए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ गौरव ग्रोवर ने सभी थाना प्रभारियों व सर्किल अफसरों को निर्देशित किया है कि अपने-अपने थाना क्षेत्र व सर्किल क्षेत्र में पुलिस की वर्दी सिलने वाले टेलर्स व सामान बेचने वाले दुकानदारों को चिन्हित कर उन्हें निर्देशित करें कि बिना आईडी प्रूफ के वर्दी और समान ना बेचे ना सिले उल्लंघन करने वालों पर की जाएगी कड़ी कार्रवाई जिससे वर्दी को बदनाम करने वाले असामाजिक तत्वों पर अंकुश लग सके।एसएसपी डॉ गौरव ग्रोवर ने इसकी रोकथाम के लिए सभी प्रभारी निरीक्षक और थानेदारों और सर्किल अफसर को निर्देशित किया है कि ऐसे दुकानों की चिन्हित कर कार्रवाई करें। इतना ही नहीं आईडी दिखाने के बाद ही खाकी और अन्य सामाग्री देने का भी निर्देश दिए हैं
गोरखपुर में दर्जन से अधिक दुकानें हैं शहर व कस्बों में उपलब्ध है जहां पर पुलिस की वर्दी और अन्य सामाग्री आसानी से उपलब्ध हो जाती है। यहां कोई भी पुलिस की वर्दी तीन से चार हजार रुपए में खरीद सकता है। एसएसपी ने सभी सर्किल अफसर व प्रभारी निरीक्षक और थानेदारों को निर्देशित किए कि वह अपने-अपने थाना एरिया में पुलिस वर्दी का कपड़ा और वर्दी से संबंधित अन्य सामाग्री बेचने वाले दुकानदारों साथ ही वर्दी सिलाई करने वाले टेलर्स से संपर्क कर उन्हें चिन्हित किया जाए। लापरवाही मिलने पर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।एसएसपी डॉ गौरव ग्रोवर ने बताया कि जब भी किसी व्यक्ति को पुलिस की वर्दी और उसकी सिलाई कराएं तो दुकानदार और टेलर्स उनकी आईडीप्रूफ छाया प्रति जरूर लें ताकि अवैध तरीके से पुलिस की वर्दी धारण कर गलत कार्य करने वालों के विरूद्ध विधिक कार्रवाई की जा सके।

Related posts

जमिनी विवाद को लेकर दो सगे भाईयों मे मारपीट के दौरान एक की गयी जान गांव में दहसत का माहौल

Abhishek Tripathi

इफ्तार के समय दुआ जरूर कबूल होती है – मौलाना अली अहमद

Abhishek Tripathi

इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन कार्यालय पर धूमधाम से मनाया गया स्वतंत्रता दिवस समारोह, शान से लहराया तिरंगा। 

Abhishek Tripathi

Leave a Comment