Unity Indias

Search
Close this search box.
[the_ad id='2538']
मनोरंजन

योगी सरकार को फिल्म नीति से उ० प्र० फिल्म निर्माण का उचित माहौल



• प्रेम सिन्हा निर्देशक स्थानीय कलाकारों को मौका मिलने से फिल्म क्षेत्र मे क्रान्ति मे भोजपुरी फिल्मो के चर्चित – फिल्म निर्देशक प्रेम सिन्हा इन दिनों लखनऊ मे अपनी नयी फिल्म के लोकेशन चयन हेतु आये हुये हैं
इन किनो उ0 प्र0 मे हिन्दी व क्षेत्रीय भाषाओं में फिल्म निर्माण का काम काफी तेजी से बढा है इसके लिये आप प्रमुख कारण क्या मानते है-?

श्री सिन्हा- 30 प्र0 में जब से मा० योगी जी की सरकार आयी है तबसे – कानून का राज्य स्थापित हुआ है। फिल्म निर्माता व फिल्मी कलाकार जो पहले उ0प्र0 में आने से डरते थे आज विल्कुल निडर हो कर उत्तर प्रदेश में आ रहे हैं जिससे फिल्म निर्माण के छेत्र में प्रगति बढ़ी है।आप एक सफल निर्देशक है। देश के विभिन्न भागों में आपने शूटिंग की है। आप को उ० प्र० में शूटिंग करने के दौरान कैसा महसूस हुआ ?
श्री सिन्हा- योगी सरकार की फिल्म नीति से 3020 में फिल्म निर्माण का उचित माहौल बना है और आज प्रत्येक निर्माता उ0प्र0 मे फिल्म निर्माण करना चाहता है जिससे स्थानीय कलाकारों को मौका मिल रहा है और फिल्म की लागत में काफी कमी आ रही है ?
प्रदेश सरकार की फिल्म नीति से प्रदेश को क्या लाभ मिल सकता है?

श्री सिन्हा – प्रदेश के चतुर्दिक विकास में योगी सरकार की फिल्म नीति से स्थानीय कलाकारों की रोजगार मिलता है। पर्यटन को बढ़ावा मिलता है और राष्ट्रीय स्तर पर प्रदेश की चर्चा होती है जो किसी भी प्रदेश के लिये गौरव की बात हैं। स्वतंत्र संदेश– उ० प्र० सरकार ने फिल्म निर्माण हेतु काफी सहायता दिये जाने का प्रावधान किया है इसको आप किस नजर से देखते हैं?
– मा० योगी आदित्यनाथ जी का यह कदम फिल्म निर्माण के क्षेत्र मे कान्तिकारी कदम माना जा रहा है ।
भ्रष्टाचार मुक्त प्रशासन के कारण फिल्म निर्माताओं के लिये उ0प्र0 में फिल्म निर्माण करना फायदे का सौदा हो रहा है और आने वाले समय में मुम्बई से भी बड़ा फिल्म निर्माण का केन्द्र उ० प्र० बनेगा इसमें कोई दो राय नही है । उ0 प्र0 में फिल्म निर्माण को आप फायदे का सौदा बता रहें हैं उसको लेकर अन्य राज्यों की क्या राय होगी श्री सिन्हा – विशेषकर भोजपूरी की फिल्म निर्माण वाले प्रदेशों को उ० प्र० से सीखना चाहिये। उन्हें भी अपने अपने राज्य में फिल्म निर्माण हेतु उचित माहौल व सहायता देनी चाहिये। विहार, झारखण्ड, मध्यप्रदेश जैसे राज्य आज फिल्म निर्माण के क्षेत्र मे काफी पीछे है उन्हें योगी जी से प्रेरणा लेनी चाहिये जिससे स्थानीय कलाकारों को मौका मिले और राज्यों मे राजस्व को बढ़ावा मिले।

Related posts

अभिनेत्री से बनी निर्मात्री ‘ सोनालिका प्रसाद ‘ पहली फिल्म ” मेरे हम सफर

Abhishek Tripathi

24 मार्च को एक साथ पूरे भारत मे होगी रिलीज गौरव झा और काजल राघवानी की फिल्म’ नाम बदनाम’

Abhishek Tripathi

नही रहे गजल गायक पंकज उधास,73 वर्ष की उम्र में ली अंतिम सांस

Abhishek Tripathi

Leave a Comment