Unity Indias

Search
Close this search box.
[the_ad id='2538']
महाराजगंज

इबादत करने से गुनाह माफ होते हैं – कारी अनस

गोरखपुर, उत्तर प्रदेश।

 

मकतब इस्लामियात तुर्कमानपुर के शिक्षक कारी मो. अनस रज़वी ने बताया कि जिसने ईमान के साथ सवाब की नियत से यानी रिया, शोहरत और दिखावे के लिए नहीं बल्कि सिर्फ और सिर्फ अल्लाह की खुशनूदी के लिए रात में इबादत के लिए खड़ा हुआ यानी नमाज़े तरावीह और तहज्जुद पढ़ी तो उसके पिछले तमाम गुनाह माफ कर दिए जाते हैं। एक और हदीस में है कि जो शख्स शबे कद्र (21, 23, 25, 27, 29 रमज़ान की रात) में ईमान के साथ और सवाब की नियत से इबादत के लिए खड़ा हुआ यानी नमाज़े तरावीह और तहज्जुद पढ़ी, क़ुरआन की तिलावत की और अल्लाह का ज़िक्र किया तो उसके पिछले तमाम गुनाह माफ कर दिए जाते हैं।

———————–

Related posts

संजय जी ने कह दी कलाकारों के हक की बात। उन्होंने कहा आज कितने भोजपुरी फिल्म के कलाकारों के पास खुद का घर नही।

Abhishek Tripathi

जिलाधिकारी पुलिस कप्तान व जनपद के अधिकारियो ने पत्रकारों संग मनाया होली मिलन समारोह अधिकारी व पत्रकारों ने जम कर रंग गुलाल उड़ाया ….

Abhishek Tripathi

10 नग साखू 13 नग सागौन व लकड़ी चिरान के साथ एक 3 अभियुक्त गिरफ्तार

Abhishek Tripathi

Leave a Comment