Unity Indias

Search
Close this search box.
[the_ad id='2538']
महाराजगंज

दो बच्चों की मां प्रेमी संग हुई फरार

पति ने कोतवाली में तहरीर देकर लगाई न्याय की गुहार

महराजगंज:-18 साल का शादी शुदा जीवन, दो बच्चो की मां आखिरकार प्रेमी संग फरार हो गई। मामला कोतवाली क्षेत्र के ठूठीबारी के टोला धर्मौली का है। फरियादी पति ने कोतवाली में तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई है।आरोपित महिला आशा बताई गई। घटना की हर तरफ चर्चा हो रही है।
महिला के पति ने बताया कि करीब 18 साल पहले मेघौली खुर्द में शादी हुई। जिससे दो बच्चे एक लड़की छोटा लड़का है। शादी शुदा खुशहाल जीवन कट रहा था। इन्ही दिनों छितौना का एक लड़का मेरे घर आने लगा। पूछने पर मेरी पत्नी ने बताया कि मेघौली मायके से आया है। मेरा भाई लगता है। जिस पर मैने कोई आपत्ति नहीं की। इसी बीच मेरा दुबई जाने के लिए बीजा आ गया। चुकी घर में आने से मेरी भी उस व्यक्ति से नजदीकी बढ़ गई थी। मैने जाते जाते घर का देख भाल करना ये कहके दुबई चला गया। तीन साल रहने के बाद करीब दो माह पहले दुबई से कमा कर आया तो घर का माहौल ठीक नही लग रहा था। इसी बीच दो तीन बार प्रेमी युवक के साथ रंगे हाथ पकड़ लिया। घर में हुई इस घटना से हंगामा शुरू हो गया। 12 जुलाई दिन बुधवार को रात करीब नौ बजे प्रेमी के संग मिलकर मेरी पत्नी ने मुझपर अचानक हमला कर पिटाई शुरू कर दी। मेरा गला दबा दिया। जिससे मैं बुरी तरह चोटिल हो गया। जिसकी तत्काल सूचना कोतवाली पुलिस को दी। जहा दोनो पक्षकारों को सुबह बुलाया गया। जहां तमाम सभ्रांत लोगो के समझाने पर मामले में दोनो पक्षों में सुलह समझौता करा वापस धर्मौली घर ले आया। लेकिन समझौते के दो दिन बाद 14 जुलाई को सुबह अपने प्रेमी के संग भाग गई। जिसे ढूंढने के क्रम में कुछ गणमान्य लोगो के साथ उसके मायके पहुंचा तो वहां स्थिति कुछ और थी। तमाम लोगो के बीच उसने मुझे भाग जाने की धमकी देते हुए कहा कि मैं अब तुम्हारे साथ नही रहूंगी। मेरी परवरिश तुम्हारे साथ नही हो सकती। मै अपने प्रेमी के साथ बाकी जिंदगी बिताऊंगी। तुम्हारे साथ अब मेरा कोई लेना देना नही है। यह कहते हुए उसने भरे पंचायत में लिखित दिया है।

कैसे होगी बच्चो की परवरिश
पीड़ित पति ने बताया कि सबसे बड़ी चिंता बच्चो की परवरिश का है। मेरी बेटी मेरे साथ नही रहना चाहती है। वह अपनी मां के साथ रहना चाहती है। अभी वह 11वी कक्षा में पढ़ रही है। वही मेरा लड़का अभी आठवीं कक्षा में है जो अपनी मां की सूरत भी नहीं देखना चाहता है। वह घटना के बाद से अपनी मां से नफरत करने लगा है।

Related posts

3 बोरी प्याज के साथ बाइक बरामद,जवानों को देख तस्कर हुए फरार

Abhishek Tripathi

*सड़कों पर आम का बृक्ष दुर्घटना की निशानी,नहीं लिया जाता संज्ञान*

Abhishek Tripathi

नेपाल में छापेमारी के दौरान एक सौ दस बोरी भारतीय यूरिया बरामद,

Abhishek Tripathi

Leave a Comment