Unity Indias

Search
Close this search box.
महाराजगंज

प्रति वर्ष बाढ़ आने पर दर्जनों गांवों का आवागमन होजाता है बाधित,संबंधित अधिकारी मौन

प्रति वर्ष बाढ़ आने पर दर्जनों गांवों का आवागमन होजाता है बाधित,संबंधित अधिकारी मौन

*पक्की सड़क मार्ग गड्ढे में तब्दील बड़ी दुर्घटना होने की आशंका-मुन्ना अन्सारी*

 

 

ठूठीबारी – निचलौल – महराजगंज ।उत्तर प्रदेश के जनपद महराजगंज के निचलौल ब्लॉक एवं थाना कोतवाली ठूठीबारी क्षेत्र के अंतर्गत निचलौल ठूठीबारी पक्की सड़क मार्ग पर लोहरौली ढाला स्थित यानी लोहरौली ग्राम सभा को होते हुए ग्राम पंचायत कठखोर व बोदना बाजार से बकुलडीहा, मैरी, नवडीहवां, एवं सुकरहर इत्यादि गावों को जाने वाली पक्की सड़क मार्ग पूरी तरह से क्षतिग्रस्त यानी गड्ढे में तब्दील हो चुकी है। बताया जाता है कि बरसात के मौसम में उक्त सड़क मार्ग पर भीषण बाढ़ का पानी तेज धारे की तरह बहती रहती है जिससे लगभग दर्जनों गांवों का आवागमन बाधित हो जाता है।सप्ताह भर गरीबों नवजवानों किसानों के बच्चों को स्कूल जाने में असुविधा दर्जन भर गांव के लोगों को बाजार करने में, तहसील, ब्लाक, जिले से संबंधित विभागों के कामों में असुविधा झेलनी पड़ती है उसके बावजूद संबंधित विभागों के अधिकारी कर्मचारी कुम्भकर्णी नींद में सोये हुए हैं उक्त क्षेत्र के गांवों में किसानों की धान की फसलें बाढ़ की पानी से बर्बाद हो जाती है। उक्त पानी जलजमाव हो जाती है जिससे कई प्रकार की गम्भीर बीमारियां उत्पन्न हो जाया करती हैं। उक्त बीमारियों से ग्रसित लोग गम्भीर बीमारियों से बचने के लिए बाढ़ की पानियों में लम्बी सफर तय करते हैं। जिसके कारण उक्त लोगों के साथ मौत होने जैसी दुर्घटना घटित हो सकती है। अब देखना होगा कि संबंधित विभागों के अधिकारी कुम्भकर्णी नींद से जागते हैं या पहले की तरह

Related posts

सैकड़ों की संख्या में ग्रामीणों ने डीएम को सौंपा ज्ञापन पानी निकासी व नाली निर्माण कराने की मांग की

Abhishek Tripathi

उमेश कुमार बने ठूठीबारी के कोतवाली प्रभारी निरीक्षक

Abhishek Tripathi

पत्रकारों ने फहराया शान से तिरंगा, स्वतंत्र एवं निष्पक्ष लेखनी का लिया प्रण। 

Abhishek Tripathi

Leave a Comment