Unity Indias

Search
Close this search box.
[the_ad id='2538']
उत्तर प्रदेश

शिक्षक निर्वाचन की तरह पत्रकार निर्वाचन से एमएलसी बनाने की इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन ने उठाया मांग।

तीव्र तकनीकी प्रगति और बदलते संचार परिदृश्य में मिडिया की भूमिका और प्रभाव में महत्वपूर्ण परिवर्तन आया है – सेराज अहमद कुरैशी

– अररिया के दिवंगत पत्रकार विमल यादव को इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन ने दी श्रद्धांजलि।

मुंगेर, बिहार।

इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन शाखा मुंगेर की एक आवश्यक बैठक पत्रकार सुरक्षा कानून के साथ संगठन के मजबूती को लेकर राष्ट्रीय अध्यक्ष सेराज अहमद कुरैशी एवं प्रदेश अध्यक्ष रंजीत सम्राट की उपस्थिति में जमालपुर में हुई। पत्रकारों एवं सामाजिक नेता कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा विषम परिस्थिति से जूझ रहे देश के चौथे स्तंभ कहे जाने वाले पत्रकार बिरादरी आज को सुरक्षित महसूस कर रहे हैं। आए दिन हो रहे चौथे स्तंभ पर हमला एवं पत्रकारों के निर्मम हत्या कर हम सभी को गंभीर होने की आवश्यकता है। सबसे पहले हम सबों को अपनी चट्टानी एकता का परिचय देते हुए किसी ना किसी संगठन से जुड़ कर पत्रकारों के आवाज को बुलंद करने के लिए एक मंच पर आना होगा तभी पत्रकारों के अस्मिता को बचाया जा सकेगा। इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन पूरे देश में पत्रकारों के सुरक्षा को लेकर जो संघर्ष कर रही है वह आने वाले दिनों में पत्रकार सुरक्षा कानून को लागू करने में मजबूती प्रदान करेगा। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने सरकार से मांग किया है शिक्षक निर्वाचन की तरह पत्रकार निर्वाचन क्षेत्र से एमएलसी बनाया जाए। जिससे की पत्रकारों की आवाज को मजबूती मिल सके। वही प्रदेश अध्यक्ष रंजीत सम्राट एवं प्रदेश संरक्षक वरिष्ठ पत्रकार विजय आनंद ने कहां पत्रकारों ने जब कलम उठाई तो देश के आजादी के नारे लगने लगे लेकिन आज पत्रकारों को संगठित होकर अपनी सुरक्षा न्याय प्रगति की बात करनी पड़ रही है यह बात सरकार और आम आदमी के लिए सोचने वाली स्थिति है। राजनीतिक शुद्धिकरण ही एकमात्र विकल्प होगा जिससे इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन को अपने संगठन को मजबूत बनाकर पत्रकारों के विकास में कार्य करने की शक्ति देगा। बैठक के अंत में अररिया के पत्रकार विमल कुमार यादव के निर्मम हत्या पर दो मिनट का मौन व्रत रखकर शोक संवेदना व्यक्त किया गया।
इस अवसर पर लखीसराय के जिलाध्यक्ष सुनील कुमार, मनीष गुप्ता, पत्रकार मनीष कुमार, इम्तियाज आलम,केएम राज, प्रिंस दिलखुश, संजय कुमार सिंह, संतोष कुमार, शशिकांत सुमन, दीपक कुमार, पुष्कर राज, अमन राज,अमित कुमार, धनामल, मिथिलेश यादवेंद्र,आदित्य कुमार, सामाजिक नेता राजेश रमन उर्फ राजू यादव, ऋतुराज बसंत, सनी राय, अमित कुमार, राजीव कुमार, रंजीत कुमार, अक्षय कुमार, सुरेश कुमार उर्फ पप्पू, अभिनंदन पाठक, यूनियन नेता जितेंद्र कुमार, मंतोष, अशोक दास सहित कई मौजूद थे।
———————–

Related posts

लेबर कोर्ट में जजों की नियुक्ति किए जाने पर श्रम प्रतिनिधियों ने हर्ष जताया।

Abhishek Tripathi

इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन रांची इकाई की नई टीम का हुआ गठन।

Abhishek Tripathi

भाजपाई न्यायालय पर विश्वास नहीं रखते ए फेक एनकाउंटर है इसकी गहनता से होनी चाहिए जांच: अखिलेश यादव

Abhishek Tripathi

Leave a Comment