Unity Indias

Search
Close this search box.
[the_ad id='2538']
उत्तर प्रदेशमहाराजगंज

*हिन्दू बहन ने मुस्लिम भाई के कलाई पर बांधी राखी,दिखी गंगा जमुनी तहज़ीब*

अम्बरीष शर्मा की रिपोर्ट

महराजगंज। उत्तर प्रदेश के महराजगंज जिले में भाई-बहन के अटूट प्रेम के पर्व रक्षा बंधन पर्व के अवसर पर बृहस्पतिवार को बहनों ने भाईयों की कलाई पर राखी बांधी। इसके साथ ही भाईयों ने बहनों की हर परीस्थितियों में रक्षा करने का संकल्प लिया। इस दौरान समाज के कुछ ऐसे भी लोग होते हैं जो धर्म से ऊपर उठकर रक्षा के इस संकल्प को आगे बढ़ाते हैं।
कुछ ऐसा ही रक्षाबंधन के त्योहार पर भी होता है जहां एक मुस्लिम भाई की कलाई पर हिन्दू बहना का प्यार सजा हुआ दिखाई देता है। विशेष बात यह है कि ये सिलसिला एक दो साल से नहीं बल्कि बीते पांच सालों यहां हिंदू बहन अपने मुस्लिम भाई को राखी बांधती आ रही है। मालूम हो कि परतावल चौराहे पर डायमंड फोटो स्टूडियो के नाम से मशहूर अफजल अली और उनकी मुंह बोली बहन इंजीनियर पूजा गुप्ता पिछले पांच सालों से इस पवित्र बंधन को निःस्वार्थ निभा रहे हैं। अफजल अली इंजीनियर पूजा गुप्ता को अपनी बड़ी बहन मानते हैं और इंजीनियर पूजा उनके माथे पर तिलक कर उनकी कलाई पर राखी बांधती आ रही हैं। इंजीनियर पूजा हर सुख दुख में अफजल अली के लिए रानी लक्ष्मीबाई बनकर खड़ी रहती हैं तो वही अफजल अली उन्हें न सिर्फ सुरक्षा का वचन देते चले आ रहे हैं, बल्कि उन्हें उपहार भी देते हैं।
*रक्षाबंधन के अवसर पर देखा गया हिन्दू मुस्लिम भाई बहनों में मोहब्बत की एक झलक*

*मुस्लिम भाई ने हिन्दू बहन से बधवाई राखी पिछले कई सालों से बंधी है रिस्तों की डोर*

बताया जा रहा है कि उक्त दोनों रिस्ते अटूट हैं और मरते दम तक तक रहेंगे। अफजल अली का कहना है कि अल्लाह तआला ने इंसान को पैदा करते समय ऐसा कोई भेद भाव नहीं रखा। ये तो कुछ स्वार्थी लोग ही हैं जो इस तरह का भेद पैदा कर समाज में तरह तरह की भ्रांतियां फैलाते रहते हैं हैं और लोगों को बांटते हैं। हम (हिंदू-मुस्लिम) भाई-भाई हैं। सभी के दिलों में हिंदुस्तान धड़कता है। सभी एक-दूसरे का सम्मान करें यही इंसानियत है।सभी ने भारत की आजादी में अपनी खुन की नदियां बहाई है।

Related posts

बारावफात पर्व को लेकर पीस कमेटी की बैठक सम्पन्न

Abhishek Tripathi

भीमा कोरे गाँव – शौर्य दिवस कार्यक्रम हुआ सम्पन्न

Abhishek Tripathi

महिला ने जिलाधिकारी को पत्र देकर तात्कालिक आर्थिक सहायता की मांग की

Abhishek Tripathi

Leave a Comment