Unity Indias

Search
Close this search box.
महाराजगंज

महराजगंज न्यायालय में राष्ट्रीय लोक अदालत का हुआ आयोजन

शम्सतबरेज खान की रिपोर्ट

महराजगंज।उत्तर प्रदेश के उच्च न्यायालय,इलाहाबाद तथा उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण,लखनऊ के निर्देशों के अनुपालन में जनपद न्यायाधीश नीरज कुमार की अध्यक्षता में आज दिनांक-09.12.2023 दिन शनिवार को दीवानी न्यायालय,महराजगंज, फरेन्दा व कलेक्ट्रेट तथा समस्त तहसील न्यायालयों के परिसर में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। जिसका शुभारम्भ प्रातः 10ः30 बजे जनपद न्यायाधीश, जिलाधिकारी,महराजगंज,पुलिस अधीक्षक,महराजगंज द्वारा सरस्वती प्रतिमा का माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित कर किया गया। इस अवसर पर जनपद न्यायाधीश,नीरज कुमार,जिलाधिकारी,महराजगंज अनुनय झा,पुलिस अधीक्षक,सोमेन्द्र मीणा,प्रधान न्यायाधीश,परिवार न्यायालय, रविनाथ,पीठासीन अधिकारी,मोटर दुर्घटना प्रतिकर न्यायाधिकरण,सै0 सरवर हुसैन रिजवी,अध्यक्ष,स्थाई लोक अदालत,राघवेन्द्र मणि त्रिपाठी,अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश कोर्ट सं0-1 पवन कुमार श्रीवास्तव,अपर प्रधान न्यायाधीश,परिवार न्यायालय कोर्ट सं0-1 कमल सिंह,अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश (पोक्सो अधिनियम)विनय कुमार सिंह,विशेष न्यायाधीश,अनन्य न्यायालय (एस.सी./एस.टी.अधिनियम) फूलचन्द्र कुशवाहा,मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट,सौरभ श्रीवास्तव,अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट,आस्था श्रीवास्तव,अपर सिविल जज,सी0डि0, महराजगंज असगर अली,सिविल जज,सी0डि0,त्वरित न्यायालय,बलवन्त कुमार भारती,सिविल जज अवर खण्ड सुश्री बुशरा नूर,न्यायिक मजिस्ट्रेट अरूण सिंह राठौर,जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के प्रशासनिक लिपिक विपिन पाण्डेय व शेष कुमार,कम्प्यूटर आपरेटर कम क्लर्क सोनू चैरसिया एवं जनपद न्यायालय के समस्त कर्मचारीगण,समस्त बैंकों के अधिकारी/कर्मचारीगण एवं भारी संख्या में वादकारीगण उपस्थित हुये। उक्त राष्ट्रीय लोक अदालत में कुल-55467 वादों का निस्तारण किया गया। जो इस जनपद की अब तक राष्ट्रीय लोक अदालत में निस्तारित किये गये वादों की अधिकतम संख्या है जो इस जनपद की एक बडी उपलब्धि है। जिसमें जनपद न्यायाधीश द्वारा 173 वादों का निस्तारण किया गया। प्रधान न्यायाधीश,परिवार न्यायालय द्वारा 18 वैवाहिक वादों का निस्तारण किया गया। पीठासीन अधिकारी,मोटर दुर्घटना प्रतिकर न्यायाधीकरण द्वारा 75 वादों का निस्तारण किया गया व मु0-3,55,50,000 रूपये का क्षतिपूर्ति दिलवाया गया। अध्यक्ष, स्थाई लोक अदालत द्वारा 13 वादों का निस्तारण किया गया तथा मु0-9,48,896 रूपये का क्षतिपूर्ति दिलवाया गया,अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीष,कोर्ट सं0-1 द्वारा 200 विद्युत तथा अन्य वादों का निस्तारण किया गया। अपर प्रधान न्यायाधीश,परिवार न्यायालय,कोर्ट सं0-1 द्वारा 05 वैवाहिक विवादों का निस्तारण किया गया। विशेष न्यायाधीश,अनन्य न्यायालय (पोक्सो अधिनियम) द्वारा 06 वादों का निस्तारण किया गया,जिसमें मु0-6,000 रू0 का अर्थदण्ड वसूल किया गया। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट द्वारा 2893 वादों का निस्तारण किया गया,जिसमें मु0-1,77,450 रू0 अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट महराजगंज द्वारा 1500 वादों का निस्तारण किया गया,जिसमें मु0-10,970 रू0 का अर्थदण्ड वसूल किया गया। अपर सिविल जज,प्रवर खण्ड,द्वारा 2777 वादों का निस्तारण किया गया,जिसमें मु0-14,300 रू0 अर्थदण्ड वसूल किया गया। सिविल जज,अवर खण्ड,फरेन्दा द्वारा 1049 वादों का निस्तारण किया गया,जिसमें मु0-18,090 रूपये का अर्थदण्ड वसूल किया गया। सिविल जज,अवर खण्ड,महराजगंज द्वारा 794 वादों का निस्तारण किया गया। न्यायिक मजिस्ट्रेट,महराजगंज द्वारा 1110 वादों का निस्तारण किया गया। न्यायाधिकारी,ग्राम न्यायालय तहसील निचलौल द्वारा 0000 वादों का निस्तारण किया गया। न्यायाधिकारी,ग्राम न्यायालय,तहसील नौतनवा द्वारा 500 वादों का निस्तारण किया गया व मु0-1000 रूपये का अर्थदण्ड वसूल किया गया व मु0-420 रूपये का उत्तराधिकार प्रमाण पत्र जारी किया गया। इसके अतिरिक्त समस्त राजस्व,एवं चकवन्दी न्यायालयों द्वारा 45421 लम्बित/प्री-लिटीगेशन वादों का निस्तारण किया गया और सभी बैंकों के द्वारा कुल-930 ऋण की वसूली से सम्बन्धित प्री-लिटिगेशन मामलों का निस्तारण किया गया,जिसमें 167 भारतीय स्टेट बैंक,514 बड़ौदा यू0पी0 बैंक,33 यूनियन बैंक आफ इण्डिया,129 पंजाब नेशनल बैंक,10 सेन्ट्रल बैंक आफ इंडिया,04 केनरा बैंक,04 बैंक आफ इण्डिया,36 इण्डियन बैंक (इलाहाबाद बैंक),15 श्रीराम फाइनेन्स कम्पनी,18 दूर संचार विभाग के हैं और कुल मु0-1,78,85,702 रूपये बैंकों द्वारा आज नकद वसूल किये गये तथा मु0-112426026 रूपये का लोन सेटल किया गया व मु0-76045827 रूपये ऋण धारकों को बैंकों द्वारा छूट प्रदान किया गया जिससे ऋणधारकों को भारी राहत मिली।
इस प्रकार उक्त लोक अदालत में विभिन्न प्रकार के कुल-57467 वादों का निस्तारण किया गया। मोटर दुर्घटना प्रतिकर वादों में कुल-3,55,50,000 रूपये क्षतिपूर्ति के रूप में दिलवाया गया और मु0-2,27,810 रूपये अर्थदण्ड के रूप में वसूल किया गया तथा मु0-420 रूपये का उत्तराधिकार प्रमाण-पत्र जारी किया गया।
राष्ट्रीय लोक अदालत के अवसर पर अध्यक्ष,स्थाई लोक अदालत,महराजगंज राघवेन्द्र मणि त्रिपाठी की अध्यक्षता में तथा न्यायपीठ की सदस्या गुंजा राय,प्रियंका तिवारी द्वारा 13 वादों का निश्पादन किया गया व मु0-9,48,896 रूपये क्षतिपूर्ति के रूप में दिलवाया गया।
उक्त के अतिरिक्त आर्बिट्रेशन के कुल-05 वादों का चिन्हांकन किया गया था,जिसमें 02 आर्बिट्रेशन वादों का निस्तारण किया गया एवं कार्यालय जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, महराजगंज द्वारा प्री-लिटिगेशन स्तर पर 03 वैवाहिक वादों का निस्तारण सुलह-समझौते के आधार पर किया गया।

Related posts

निर्माता सत्येन्द्र तिवारी और निर्मात्री सोनालिका प्रसाद की भोजपुरी फिल्म’ मेरे हम सफर’ की सूटिंग कंप्लीट।

Abhishek Tripathi

महराजगंज के अधिवक्ताओं द्वारा कानपुर के जिला जज के खिलाफ खोला गया मोर्चा किया प्रदर्शन और की गई नारेबाजी

Abhishek Tripathi

सोनौली रोडवेज चालक टावर पर चढ़ किया हाई वोल्टेज ड्रामा समझाने में जुटी पुलिस

Abhishek Tripathi

Leave a Comment