Unity Indias

Search
Close this search box.
[the_ad id='2538']
महाराजगंज

दहल उठा घोड़हवा निचलौल सहम उठे लोग मां ने चाकू से गला रेत उतारा मौत के घाट

 

जयप्रकाश वर्मा

महाराजगंजः जिले मे एक ऐसी दर्दनाक घटना सामने आया है जो दिल दहला देने वाला है निचलौल थाना क्षेत्र के घोड़हवा में मां ने अपनी पांच वर्ष व दो वर्ष की दोनों बेटियों की चाकू से गला रेत कर हत्या कर खुद भी आत्महत्या की कोशिश की महिला का पति और अन्य परिजन दूसरे शहर में रहते हैं. महिला अपनी दो बेटियों और भांजी के साथ गांव में रहती थी. ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस शव को कब्जे में ले लिया है. वहीं, घायल महिला को जिला अस्पताल से मेडिकल कालेज रेफर कर दिया गया है. पुलिस को घटना स्थल से सुसाइड नोट भी मिला है.

 

जानकारी के मुताबिक, निचलौल नगर के घोड़ाहवा वार्ड निवासी अमन विश्वकर्मा की पत्नी साक्षी अपनी दो बेटियों और एक भांजी के साथ घर में रहती थी बुधवार दोपहर करीब 4 बजे भांजी शिखा स्कूल से पढ़कर जब वापस लौटी तो दरवाजा बंद था इसके बाद उसने शोर मचाना शुरू किया शोर सुनकर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे और कमरे का दरवाजा तोड़ा तो घर में साक्षी, बेटी आरोही और अपेक्षा जमीन पर खून से लथपथ पड़ी थी जिसे देख चीख पुकार मच गई किसी ने इसकी सूचना पुलिस को दी जिसके बाद घटनास्थल पर थानाध्यक्ष मय फोर्स के साथ पहुंचे और खून से लतफत महिला को अस्पताल पहुंचाया जहां दोनों बच्चियों को मृत घोषित कर दिया गया. जबकि खून से लतफत साक्षी को मेडिकल कालेज रेफर कर दिया गया है. घटना की सूचना पर सीओ निचलौल और फोरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंच कर जांच में जुट गए हैं. घटनास्थल पर मिले सुसाइड नोट में साक्षी ने घटना के बारे में लिखा है. इसके साथ उसने लिखा है कि इसकी पूरी जिम्मेदारी मेरी है इसमें मेरे किसी परिवार के सदस्य को परेशान न किया जाए।

जिला अस्पताल में पुलिस अधीक्षक सोमेंद्र मीणा तथा अपर पुलिस अधीक्षक आतिश कुमार ने पहुंचकर घटना के संबंध में जानकारी ली. घटना के बाद मोहल्ले में चीख पुकार मची हुई है ।खबर लिखे जाने तक अभी कोई कार्यवाही नहीं की गई है

Related posts

लेखपाल से पत्रकार को जान माल का खतरा

Abhishek Tripathi

ठूठीबारी में बिजली बिल भुगतान का चला अभियान ,12 लोगो की काटी गई बिजली कस्बे में मचा हड़कंप

Abhishek Tripathi

नेपाल बॉर्डर से सटे भारतीय सीमा के चौकी के सामने प्रतिबंधित समानों की धड़ल्ले से हो रहीं तस्करी, गाड़ियों को जांच करना उचित नहीं समझती पुलिस ?

Abhishek Tripathi

Leave a Comment