Unity Indias

Search
Close this search box.
[the_ad id='2538']
लखनऊ

प्रखर हत्याकांड शामिल अपराधियों की हो गिरफ्तारी,परिजनों को रास नहीं आ रही पुलिस की कार्यशैली 

 

बाल अपचारी अकेले इतनी सफाई से नहीं कर सकता हत्या

फोटो

अमेठी / लखनऊ। प्रखर गुप्ता हत्याकांड किसी के गले नहीं उतर रहा है।हर तरफ से यही कहा जा रहा 15 वर्षीय बाल अपचारी इतनी बड़ी घटना को अंजाम नहीं दे सकता है।बरामद शव देखने के बाद कोई मानने को तैयार नहीं है कि बाल अपचारी अकेले इस हत्या को अंजाम दिया है।बुधवार को मृतक प्रखर गुप्ता के माता-पिता सीओ लल्लन से मुलाक़ात की।परिजनों को रास नहीं आ रही पुलिस की कार्यशैली स्थानीय सांसद स्मृति ईरानी भी मृतक परिजनों से मुलाक़ात कर चुकी है।जिला पंचायत अध्यक्ष राजेश अग्रहरि भी न्याय दिलाने का आश्वासन दे चुके हैं।परिजनों ने हत्याकांड में शामिल सभी लोगों की गिरफ़्तारी की मांग कर रहे है।

 

प्रखर हत्याकांड की चर्चाएं हर चट्टी-चौराहो पर है।परिजनों के साथ स्थानीय जनता भी पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े किए हैं।पुलिस ने एक 15 वर्षीय बाल अपचारी को आरोपी बनाकर उसपर कार्यवाही कर चुकी है।लेकिन, मृतक के परिजन पुलिस के खुलासे से संतुष्ट नहीं हैं।मृतक की माँ गुड्डी देवी का आरोप है कि पुलिस आरोपी बालक के सिर्फ बयान से कार्यवाही कर रही है, सही तरह से जांच नहीं की। पुलिस ने जल्दबाजी में खुलासा किया है।उन्होंने कहा कि उनके पुत्र की हत्या करने में और भी लोग शामिल हैं। जहाँ पर प्रखर का शव मिला था, वहां की स्थिति देखकर कोई कह ही नहीं सकता कि यह केवल एक बालक द्वारा किया गया कृत्य है।एक बालक अकेले इतनी सफाई से हत्या नहीं कर सकता है,इसमें कई लोग शामिल है।स्थानीय बाजारों में भी चर्चाएं तेज है। गुरुवार बाजार में कई दुकानों पर हत्याकांड के बारे में चर्चा होती रही।कई लोगों ने यह भी चर्चा कि स्थानीय पुलिस जल्दबाजी के चक्कर में केवल एक बाल अपचारी पकड़ पायी बाकी शामिल लोग अभी गिरफ्त से बाहर हैं।वही कई लोग यह भी कहते नजर आए पुलिस का रवैया गजब है, एक बाल अपचारी को पकड़कर कार्यवाही कर दी गयी है।जो बचे होंगे आगे भी ऐसी घटना को अंजाम दे सकते हैं,अपने बच्चों के स्कूल जाते और आते समय देख रेख करना होगा।सूत्रों की माने तो अब प्रकरण की जानकारी अन्य पिछड़े आयोग के पास पहुंच गयी है।गौरतलब हो कि बीते 18 अप्रैल को प्रखर गुप्ता के गुमशुदगी की सूचना रामगंज थाने को दी गयी थी, जिसके बाद 20 की शाम उसका शव मिर्जापुर मजरे मंगरा के जंगल में मिला था।जिसमें पुलिस ने कई संदिग्ध अपराधियों को हिरासत में लिया बाद में उन्हें छोड़ दिया।केवल बाल अपचारी पर कार्यवाही हुई है।मृतक प्रखर गुप्ता के घर स्थानीय सांसद व केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी भी दस्तक दे चुकी हैं।स्मृति ने आश्वासन भी दिया था कि दोषियों पर कठोर कार्यवाही होंगी।उन्होंने रामगंज थाना अध्यक्ष देवेंद्र प्रताप सिंह को हिदायत भी दी थी।जनपद के सोशल मीडिया पर भी प्रखर गुप्ता हत्याकांड सुर्खियों में है।पुलिस द्वारा की गई कार्यवाही से कोई संतुष्ट नहीं है।सभी खुलासे का इंतजार कर रहे हैं।

Related posts

लोक जन समाज पार्टी(भारत) के राष्ट्रीय अध्यक्ष के मौजूदगी में पार्टी का किया गया विस्तार

Abhishek Tripathi

भूकंप के झटके किए गए महसूस,लोग घरों से निकले बाहर – पढ़े पूरी खबर

Abhishek Tripathi

डरा रहा भूकंप,72 घंटे में दूसरी बार आया भूकंप, कांप गए दिल्ली-नोएडा के लोग

Abhishek Tripathi

Leave a Comment